पति से नहीं भाई से संतुष्ट हुई

दोस्तों आज मैं आपको एक ऐसी कहानी कहने जा रही हु, जो मेरी ज़िंदगी की हकीकत है, आज मैं आप सब को अपनी ये कहानी जरूर सुनाऊंगी क्यों की मेरे दिल पर भी एक बोझ है जो मैं हल्का करना चाहती हु, कभी कभी मैं सोचती हु की ये सही है और कभी ये सोचती हु की ये गलत है, पर मैंने वही किया जो मेरा दिल ने कहा, आखिर करती भी क्या? सेक्स तो अधिकार है, अगर ये नहीं मिलता है जिससे ये आशा रहती ही की वो पूरा करेगा, वही अगर नपुंशक निकलेगा तो क्या करें, शायद ये जवाव आपके पास भी नहीं होगा, क्यों की आपमें से भी कई मुंह मारे होंगे इधर उधर. मैं आपको अपनी पूरी कहानी बताती हु,

मेरा नाम मंजू है, मैं दिल्ली में रहती हु, ऐसे मैं हरिद्वार की रहने बाली हु, मैंने रमेश को अपने सहेली की शादी में देखि थी और तभी हम दोनों का प्यार परवान चढ़ा सिर्फ नहीं नक्श और आचार व्यबहार से, मैंने रमेश पे फ़िदा हो गई थी, और कोई लड़कियां खुद किसी को लाइन दे तो पता है बल्ब तो जलेगा ही, हुआ भी वही, वो भी फ़िदा हो गए, फ़िदा होने का कारण था मेरा जिस्म, गदराया हुआ बदन, मदमस्त चाल, लम्बे बाल, आँखे ऐसी की कोई भी गोता लगाने को सोचेगा, मेरी बलखाती जवानी के जाल में रमेश आ गया, और कुछ ही महीनो के अंतराल में शादी हो गई, पर एक गलती हो गई, आचार विचार से ही काम नहीं चलता है, हमें तो अब लगता है, की जब भी किसी की शादी होने लगे तो सब तरफ से जांच पड़ताल होनी चाहिए, क्यों की मुझे जो लण्ड मिला वो खड़ा ही नहीं होता था, ये बात मुझे शादी के रात को ही पता चला.

रात को सेज सजा हुआ था, मैं पलंग पे घूँघट लिए बैठी थी, पूरा कमरा महक रहा था फूलों से, मेरे पति देव अंदर आये पलंग पर बैठे और मेरी घूंघट को खोल कर मेरा मुंह देखे, मैं बहुत खुश थी, पर रमेश के माथे पे सिकन था, पसीने आ रहे थे, मैं सोची की हो सकता है पहली बार है इस वजह से मैंने ही थोड़ा शर्म को त्याग कर खुल कर बात करने लगी, और मेरा ही होठ रमेश के होठ को चूमने लगा, रमेश भी मुझे किश करने लगा, मैंने खुद ब्लाउज का ऊपर का हुक खोल दी ताकि मेरे चूचियों का दीदार हो जाये, मेरे चूचियों के बिच का भाग बाहर को आने लगा, फिर मेरी मदमस्त जवानी हिलोरें लेने लगी, मेरी चूत काफी गरम और गीली हो चुके थी, मैं चुदना चाह रही थी, क्यों की मेरे तन बदन में आग लग चुकी थी, और मैंने खुद ही ब्लाउज को खोल दिया और साडी पहले ही खुल चुकी थी, पेटीकोट और ब्रा में थी, बड़ी बड़ी सॉलिड चूचियों रमेश के फेस पर रगड़ रही थी, रमेश भी मेरी जवानी का खूब मजा लेने लगा. करीब २० मिनट तक ये रगड़ा चलता रहा फिर मैं पूरी तरह से निर्वस्त्र हो चुकी थी, पर रमेश जांघिया पहना था, मैंने उसके जांघिए को दी और उसके लण्ड मो हाथ में ले ली, और चाटने लगी, रमेश आह आह आह कर रहा था, मैं बड़े चाव से लण्ड को मुंह में ले रही थी. अब मुझे लण्ड चूत में चाहिए था, मैंने निचे हो गई और रमेश को ऊपर ले ली.

फिर क्या बताऊँ दोस्तों लण्ड मेरे चूत में जा नहीं रहा था, वो जोर लगाता पर तुरंत ही लण्ड मुरझा जाता, सिकुड़ जाता, मैंने रमेश को समझाया की जल्दी बाजी की जरूरत नहीं, पर वो दर नहीं रहा था बल्कि उसका लण्ड ही प्रॉपर खड़ा नहीं हो रहा था, तिन चार बार कोशिश करने के बाद भी मेरे चूत में लण्ड नहीं गया और रमेश डिस्चार्ज हो गया, उसका पूरा स्पर्म मेरे पेट पे गिर गया, और वो थोड़े देर बाद ही सो गया, मैं एक घंटे तक उसके उठने का इंतज़ार करते रही पर उठा नहीं और मैं भी कपडे पहन कर सो गई, क्या बताऊँ दोस्तों यही सिलसिला चलता रहा पन्दरह दिनों तक, मैं वासना की आग में जलते रही पर मेरी चूत का उद्घाटन नहीं हो पाया, मेरी जवानी लहलहाती रही पर इससे भोगने बाला ही नपुंशक निकला,

पंद्रह दिनों के बाद मैं अपने मायके गई, मेरे आने की ख़ुशी में माँ मंदिर गई, घर में मेरा बड़ा भाई जो मुझसे २ साल बड़ा है अभी कुंवारा ही है, उसने पूछा मंजू कैसी चल रही है, रमेश जी तुमसे प्यार करते है की नहीं, इतना सुनते ही मैं रोने लगी, और भाई के गले लग गई, मैं कुछ बोल नहीं पा रही थी, बस रो रही थी, काफी थपकाने के बाद मैं चुप हुई, काफी पूछने के बाद मैं सब बात अपने भाई को साफ़ साफ़ बता दी की रमेश मुझे शारीर का सुख नहीं दे सकता, तो भाई मुझे सम्हालते हुए कहा, मुझे पता है!!! मैं हैरान हो गई, मैंने रिपीट किया “पता है” क्या मतलब? तो मेरा भाई बोल बहन मैंने तुमसे एक बात झूठ बोल!, मैं हैरान हो गई फिर पूछी क्या है ये? क्या कह रहे हो, तो मेरा भाई बोल, शादी के पहले रमेश मुझसे बोला की मेरे साथ प्रोबलम है, हो सकता है मंजू को शारीरिक सुख ना दे पाऊं, तो मैंने कहा की मंजू तो आपको बहुत प्यार करती है, वो तो आपके बिना नहीं रह सकती है, तो रमेश जी भी बोले की मैं भी मंजू से बहुत प्यार करता हु, सच तो ये है की मैंने नजरअंदाज कर दिया उसके प्रोबलम को. सच तो ये है की मैं भी तुमसे प्यार करता हु, मंजू,

मैं हैरान हो गई, बोली क्या बोल रहे हो भैया, मैंने कहा हां मेरी बहन ये बात सच है, मैंने तुमसे शारीरिक सम्बन्ध बनाना चाहता हु, मैंने सोचा की ये मौक़ा मेरे हाथ से जाना नहीं चाहिए और मैंने ये बात किसी से नहीं बताया, क्या बताऊँ दोस्तों उस दिन मैं दिन भर रोइ, शाम को माँ आगरा चली गई क्यों की कूल देवता को प्रसाद चढ़ाना था, मेरे दादा जी का घर आगरा ही है, शाम को वो चली गई, घर में भैया और मैं थी, जैसे ही मैं कमरे के अंदर गई, मेरा भाई मुझे कस के पकड़ लिया, और आई लव यू मेरी बहन कब से मैं तुम्हे पाने के सपने देख रहा था, मैं तुमसे बहुत प्यार करता हु, मैंने छुड़ा नहीं सकी उसके पकड़ से, और मैं भी उसके जिस्म की आग में जलने लगी, क्यों की मैं खुद धधक रही थी, वो मुझे पलंग पे लिटा दिया और मेरी चूचियों को दबाने लगा, धीरे धीरे उसने मेरे सारे कपडे उतार दिए और मेरी चूत को चाटने लगा, मैं बस आह आह आह कर रही थी और भरपूर मजा ले रही थी, ये कहानी आप नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पे पढ़ रहे है. हम दोनों 69 के पोजीशन में आ गए और मैं खुद उसके लण्ड को चाट रही थी और वो मेरी चूत को, गजब का एहसास था, मजा गया ज़िंदगी का क्यों की मेरे भाई का लण्ड बहुत मोटा और बड़ा था मैं बहुत खुश हो रही थी, क्यों की आज मैं जम कर चुदने बाली थी.

फिर क्या था मैंने कहा भाई अब बर्दास्त नहीं हो रहा है मुझे चोद दो मेरे चूत को अवाद कर दो, आज मुझे जम कर चोदो, मैं बस चुदना चाह रही हु, और फिर उसने अपना मोटा लण्ड मेरे चूत के ऊपर रखा और जोर से धक्का मारा, पूरा लण्ड जो करीब आठ इंच का था, मेरे चूत में जाकर सेट हो गया, और फिर झटके पे झटके देने लगा, मैं भी गांड उठा उठा के चुदवाने लगी वो मेरी चूचियों को भी मसल रहा था, और मैं इसका आनंद ले रही थी, क्या बताऊँ दोस्तों जो सुख मेरे पति देव नहीं दे पाए, वो मेरा भाई दे दिया, रात भर चुदी, अलग अलग स्टाइल में, मेरे सुहागरात सच पूछो तो भाई ने ही मनाया, आज १५ दिन हो गया है मायके में, मैंने भाई से खूब चुदवा रही हु, मेरी ज़िंदगी बहुत ही मस्त चल रही है, अगर कोई दिल्ली के आस पास को हो तो मुझे कांटेक्ट करो, क्यों की भाई की शादी होने बाली है मुझे एक ऐसा इंसान चाहिए जो मुझे चोद सके, मुझे रुपया पैसा की जरूरत नहीं है, उसके लिए मेरा नामर्द पति काफी है,

Hindi Sex Story

Sex Stories, Hindi Sex Stories, Sex Story, Hindi Sex Story, Indian Sex Story, chudai, desi sex, sex hindi story, Marathi Sex Story, Urdu Sex Story, पढ़िए रोजाना नई सेक्स कहानियां हिंदी में अन्तर्वासना सेक्स और इंडियन हिंदी सेक्स कहानी हॉट और सेक्सी सेक्स कहानी, Sex story, hindi story, sex kahaniyan, chudai ki kahani, sex kahaniya


Online porn video at mobile phone


dibali me cudane ki kahanihotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayavidhwa kambali gand sex story hindiचुची दवाकर चौदी विडीयोSASU MAA KE CHUDAIगोवा मे चुदाई मौसी कि चुआह आह ससुर जी और चोदो आपका लन्ड बहुत मोटा हैhindi sex khanidibali me cudane ki kahaniआन लाइन हिनदी सेकसी बीडीयोमराठी मामीसेक्स व्हिडीओMom bra anterwasna storeपापा से छुड़वाया फॉर्महाउस मेंbhbhi ne daver se cut or gad mrwae khani btaeyबूर चौदा चौदीक्सनक्सक्स देसी सर्ब पि का gandसोते ना बेटा अपनी मां को चोदता है ड kamukta.com करोhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayabaykochi chud moti aahe kay kruगोवा मे चुदाई मौसी कि चुwww हिँदी कथा सेकस.commaa ko choda aur diwali manayi Desi storyबूर कि दीवाल दिखाए नंगी सेकसी बीडिओRajesh tina ki sex nonvnj storymaa bata nonveg kahaniaऔरत के गाँद चोदने से क्या लाभhindisexestorydibali me cudane ki kahaniAunty and mami anterwasnasexxyi kahani shdai kiनाना पोति के दुध पीते सेकसि कहानियाwww.kamukta.comhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayachachisexykahanigar.ka.maal.xxx.story.hindi.free.storyपति ने भेजा चुदाइ के लिए नोकरकोbhbhi ne daver se cut or gad mrwae nee khani btaeyबायकोला निग्रो झवलाXXX KAHANI KARWA CHAUTHचेहरा ढककर बूर चोद दियाshayar ki chudai kahanividhwa kambali gand sex story hindiघरमें नोकर ने सबको चोदासास Sexसादी शुदा दीदी को दिन रात चौदाबहन भाईsex 18 सालnonvegestoies.comaantarvasna maa behen ke satht chudai ke kahaniyanandoi ko divali ka gift diya sex kahaniमाँ ने बेटेसे चोदके लियाantarvasana vdo storiपड़ोसी वाले चाचा से चुदीjimidar ki beti ko cuda bihari ne sex stori hindiमंजु भाभी की पेंटी पर मुठ मारीचुची दवाकर चौदी विडीयोxxx devar रात्रि marathi storiesdibali me cudane ki kahaniसास को खूब चोदा मजे से चुदवाती है।mamisexy kahanihotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayaजँगल मे शालि कि शिल तोङिबहन की चूत के बदले चूतsasur ji ne choda mere sath apni beti ko hindstoryibiwi ko chudyava hindi sex kahanichudai kee manjeelxx hide storygher ki maal desi Bahan ki chudaiantarvasna sex storiesdost ki bahn ki chudai barish maiपापा.ने.अपनीँ.सगी.सास.कि.चुत.मारी.हैचूची दूध हिंदी स्टोरीचाची जी बहाने से मुझसे चुदवाया bhai khuleaam sex kahaniX story papa ko seduce kar cudayi office mepainty bra dekh mother in law ki honeymoon chudai storybhai bhin fuck sex storeesnonvejsex story.commaa ko choda 1000 xxx kahaniHindi sex kahaniगोवा मे चुदाई मौसी कि चुdesi sexy hinidasi me Sadai utarke chodaचुदाई चुटकलेhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayasxs kon taraf aage ya picha karne se biacha hota haiसभी प्रकार के सेक्स स्टोरीdibali me cudane ki kahaniभाईनेबहनकोचोदापापा ने मेरा १८ जनम दिन मनाया सेक्सी स्टोरी हिंदीमेरी देसी चूत पापा का मोटा लण्डगोवा मे चुदाई मौसी कि चुसास दामाद भाई बहन ओपेन सेकसी बिडीओchudked bua ka randipan dekha sex storyझांटों से रगड़ने में बहुत मज़ा आता है chudakkad saasससुरजी के बड़े लण्ड़ से चुदवायाcudakkad randi pariwar ki cuadi kahanidibali me cudane ki kahani