नौकरी बचाने के लिए माँ को चुदवाया अपने बॉस से

दोस्तों कभी कभी ज़िंदगी माँ कुछ ऐसा हो जाता है जिसके बारे में कभी सपने में भी नहीं सोचते है, पर सामने कुछ ऐसे हालात आ जाते है जिसपर किसी इंसान का बस नहीं चलता उस हालत से समझौता करना पड़ता है, मैंने भी वही किया, खुश रहने के लिए और ज़िंदगी जीने के लिए हां मैंने हालत से समझौता किया और अपने माँ को अपने बॉस के हवाले कर दिया, मेरी माँ चुदती रही और मैं देखता रहा, मैं आपको पूरी कहानी बताता हु, की ये हालत क्या था जिससे मुझे समझौता करना पड़ा.

मेरा नाम श्रीकांत है, मैं अभी 23 का हु, और मेरी माँ 38 साल की है, पिछले साल ही मेरे पापा का देहांत हो गया है, मेरा जॉब एक मल्टीनेशनल कंपनी में लग गया था और मेरे पास बिलकुल भी टाइम नहीं था अपने लिए मैं ढाबा में खाना खाता था, इस वजह से में काफी वीमार रहने लगा, तब माँ मेरे पास ही दिल्ली आ गयी, क्यों की वो अकेले ही लखनऊ में रह रही थी क्यों की मैं ही अकेला संतान हु, मेरी माँ देखने में काफी सुन्दर है, वो बिलकुल भी 38 साल की नहीं दिखती है, वो अभी भी 28 की दिखती है. मेरी माँ में जो सबसे खूबसूरत चीज है वो उनकी चूचियाँ दोनों बड़े बड़े पर बहुत ही सुडौल, पेट सपाट पर नाभि अंदर की ओर, चूतड़ बाहर गोल गोल निकला हुआ, कमर पतली, गोरी, लम्बे लम्बे बाल, पहले तो मुझे ये सब का ज्ञान नहीं था, मैं जब भी माँ के साथ कही बाहर निकलता था सब लोग मेरी माँ को देखते थे, आगे से भी और पीछे से भी, तब से मैं भी माँ को घूरना शुरू किया वाकई में वो आँख सेकने लायक है.

तो कहानी पे आता हु, मेरा डेरा मेरे ऑफिस के पास ही ही है, काफी बीमार होने की वजह से मेरे बॉस जो की दोनों पार्टनर थे, अरोरा साहब और गुप्ता जी दोनों घर पे आये, मुझे देखने, माँ उन दोनों के लिए चाय बना के लेके आई, उन दोनों ने मुझे काम और मेरे माँ को ही निहारना शुरू कर दिया, माँ मेरी सफ़ेद कलर की साडी और ब्लाउज पहनी थी, उनका नाभि दिख रहा था और साइड से चूचियाँ भी पता चल रहा था कितना बड़ा है, बीएस क्या था अरोरा और गुप्ता जी दोनों देखने लगे, फिर उन दोनों ने आपस में इशारा किया, मैंने सब समझ रहा था वो दोनों की गन्दी निगाह मेरे माँ पे है, तभी वो चाय लेके आई पर उन दोनों ने चाय नहीं पि, और उठ कर खड़े हो गए, मैं समझ नहीं पाया, उसके बाद उन दोनों ने बोला, मैं तुम्हे ये बताने आया हु की अगर तुम कल से ऑफिस नहीं आये तो तुम्हारे जगह पे किसी और को रख लूंगा, और हुह कहके चले गए.

मैंने काफी परेशान हो गया क्यों की मेरा तबियत इतना खराब था की मैं ऑफिस जा नहीं सकता, मेरी माँ ये सब सुनकर बहुत दुखी हो गयी और उनके आँख से आँशु आ गए, मैंने कहा कोई बात नहीं माँ मैं सब ठीक कर लूंगा, और दूसरे दिन में किसी तरह से ऑफिस गया, तो बॉस मेरे पर उखड़ा उखड़ा था, फिर उन्होंने मुझे अपने केबिन में बुलाया, और कहा की तुम्हारा टर्मिनेशन लेटर बना हुआ है, तुम अब आ नहीं सकते. मैंने कहा सर प्लीज कुछ करो, मेरी हालात अच्छी नहीं है और मेरे लिए ये शहर भी नयी है, तो उन्होंने बोला तुम अपनी नौकरी एक ही शर्त पे बचा सकते हो अगर तुम अपने माँ एक एक दिन के लिए मुझसे मिलने दो समझ रहे हो ना मिलने दो का मतलब, मैंने सिर्फ सर हिला के हां में जवाब दे दिया, फिर उन्होंने बोला तुम्हे कुछ भी नहीं करना है सिर्फ तुम्हे ये गोलियां कल दिन में खिला देना बारह बजे और हम दोनों एक बजे तुम्हारे घर आयेगे,

मैं नहीं चाहते हुए भी दूसरे दिन माँ चाय में वो गोली डाल, माँ करीब १० मिनट बाद ही वो बेहोश होने लगी, और फिर वो बेड पे सो गई, मैं नजदीक जाके देखा वो हिल भी नहीं रही थी, तभी वो दोनों कुत्ता भी आ गया, और हलके से पूछा काम कर दिया मैंने सर हिला के हां में जवाब दिया, और इशारे से बता दिया जहा वो सोई हुयी थी, मैं भी साइड में खड़ा होक दूर से उन दोनों की हरकतों को देख रहा था, वो दोनों एक दूसरे का चेहरा देखा और दोनों ने ताली दिया, फिर वो दोनों टूट पड़ा मेरी माँ के ऊपर मेरी माँ का गदराया हुआ बदन उन दोनों के सामने पड़ा हुआ था जैसे की एक हिरन थक के शेर के आगे बैठ जाए, उन दोनों ने मेरे माँ का ब्लाउज खोल दिया, माँ उस दिन ब्रा नहीं पहनी थी, दोनों ने एक एक चूच को अपने मुह में ले के चूसने लगा औअर फिर गुप्ता जी मेरे माँ के होठ को चूसने लगे, फिर निचे आके अरोरा जी पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया, और टांगो को फैलाकर बीच में बैठ गए और माँ के बूर को चाटने लगे,

मैं ये सब देख रहा था मैंने भी पहले किसी को ऐसे नंगी हालात में नहीं देखा था, तो मेरे भी लण्ड खड़ा होने लगा, पर मैं वही खड़ा होके सारा माजरा देख रहा था, तभी गुप्ता जी अपना काल नाग करीब 8 इंच का मॉन्स्टर लण्ड निकाला और माँ के मुह में पेलने लगा और कह रहा था कुतिया आज तुम्हे जहा जहा छेड़ है वह वह ये नाग घुसेगा, आज तो तुम कुछ बोल भी नहीं पायेगी, आज तो तुम्हे चोद चोद के फाड़ दूंगा तेरे बूर को, तुम्हे चुदना होगा मेरी जान अपने बेटे की नौकरी बचने के लिए, तभी अरोरा जी अपना लण्ड निकाल के मेरे माँ के चूत के ऊपर रख के एक धक्का दिया और पूरा का पूरा लण्ड मेरे माँ के बूर के अंदर चला गया, अब क्या था दोनों ने मेरे माँ को चोदना सुरु कर दिया. कमरे में उन दोनों की आआह आआअह क्या माल है, उफ्फ्फ्फ्फ़ आज तो मजा आ गया, यही आवाज निकल रही थी, फिर उन दोनों ने बारी बारी से माँ को चोदा और दोनों ने एक साथ अपना अपना वीर्य माँ के पेट पे गिरा दिया, और दोनों ने कपडे पहन के बाहर आते हुए मुझसे कहा, थैंक्स, बहुत मजा आया, तेरी नौकरी पक्की, अब तुम्हे कोई नहीं निकाल सकता,
माँ शाम को उठी पर इसके पहले ही मैंने उनको कपडे पहना दिया था, जब वो उठी तो बोली क्या हुआ था मेरे साथ, तो मैंने कहा माँ आप बाथरूम में गिर गए थे, और आप बेहोश हो गए थे, फिर मैंने माँ के लिए झूठ मूठ का दर्द का टेबलेट ला दिया था बोला की डॉक्टर से कह के लाया हु, मुझे पता था की माँ को दर्द हो रहा होगा, माँ बोली मेरे कमर में इतना दर्द क्यों हो रहा था तो मैंने कह दिया की आप जैसे ही गिरे थे झाड़ू निचे आ गया था, वो समझ गई बूर में दर्द जो हो रहा था झाड़ू की वजह से ही, फिर वो गरम पानी से नही उनका शरीर का दर्द कम हो गया, और फिर वो नार्मल हो गयी,

दूसरे दिन ऑफिस पंहुचा तो दोनों बॉस ने मुझे एक अलग से केबिन दे दिया, और बोला की तू एक महीने में एक दिन वही करना, पर मुझे अच्छा नहीं लग रहा था, इसलिए मैंने दूसरे जगह जॉब के लिए अप्लाई करने लगा और पंद्रह दिन के अंदर ही मुझे दूसरे जगह नौकरी लग गयी, और मैंने जॉब छोड़ दिया, और जाते जाते ये भी अपने दोनों बॉस को कह गया की, तुम लोग अब मेरे घर के तरफ नजर उठा के देखा तो मैं कम्प्लेंट कर दूंगा. फिर हम माँ बेटा ख़ुशी ख़ुशी रहने लगे.

Hindi Sex Story

Sex Stories, Hindi Sex Stories, Sex Story, Hindi Sex Story, Indian Sex Story, chudai, desi sex, sex hindi story, Marathi Sex Story, Urdu Sex Story, पढ़िए रोजाना नई सेक्स कहानियां हिंदी में अन्तर्वासना सेक्स और इंडियन हिंदी सेक्स कहानी हॉट और सेक्सी सेक्स कहानी, Sex story, hindi story, sex kahaniyan, chudai ki kahani, sex kahaniya


Online porn video at mobile phone


gey sex story bap beta nebhanji ko mutte huve dekhamarahisexstories.ccantaravsna principal and momट्रेन में का बूर सरदी/bhai-se-chudwai-bhai-bahan-ki-sex-kahani-real-me/होली की चुड़ै मैं घोड़ी बानीSex stories बेटेने अपनी विधवा माँ का जबरदस्ती माँ बनाया sex ,comsassexstorysuhagraat chudai hotel nangi ahhचुदाइ के नालेजदूध ऑफ़ भाभी विडो इन सेक्स स्टोरीजchoti bahan rajaayi ke andar kahani hindi meDzudo 63.ruझट बल बर छोड़ै विडोसdibali me cudane ki kahanidibali me cudane ki kahanichudakd bhaneजेठ जी का लंड तुमसे भी बड़ा हैbaykochi chud moti aahe kay krusarpanch ki beti ki suhagrat hotsexstory.xyzSusur devar ki x khani.non veg kahani mom son xxx kahanirakshabandhanparchudaihot sex kahani 26 february 2020dibali me cudane ki kahanichodai kambali ki hindi mehdलड़का लड़की सेक्स जोके2020 की चूत फाड चूदाईयाssdi vali bhabi ki chootबहन के सास को मेरा लंड पसंद आयाsexy storyes marathiWww पहिली बार xxx khaniyaXxx non veg sex khania hindiadhalt rangila bap rangili beti desi sex kahanichodai hindibahusarpanch ki beti ki suhagrat hotsexstory.xyzनॉन वेज पशू सेक्स कहानीबाया सेक्स स्टोरीsadisuda mhila ko ptake choda hindi kahanikarwa chauth ko bete meri chuchiसंभोग कथाxxx davar bahvi kahne meeratWwwबहन हीदीxxx comsister papapa sexy xxxdidi.hot.bf.six.kahani.मराटिसैकसकहानियाकोथा पर की लडकिया कैसे पेलते हैjmidar ki Rkhel bnkr chudi hindi storChudasi sotan xx vidio dibali me cudane ki kahaniजीजू ने मेरी बुर चोदीमेरी चुत फटीsexy kahani hindiअमन की सेक्सी कहानियां डॉट कॉमbhai ne bahan ko tel malish k bahame chod diya hendi sex kahani cmBhabhine aapane widhava bahanse chodavaya मेरी चुत फटीnonveg story anju raniरात में चीख पड़ी जब भाई ने जोर से लौड़ा घुसाया विर्जिन चूत मेंचुतमे फोडा सेक्स कथानशे मे परी की गांड ठोकी storiesSex bideeo sex nokaraniसैकस कहानीKamukhta.com baap betiहमरी फुद्दी शांत न होगी बिना लौंडा केchudai ki kahani sitapurchudakdhh didi kahamiरिशतो मे सेकस कहानी पडने को बता ओhindisexestoryचाचा मम्मी की नाभि बराबर चुंबन करते है aur jeeb से chatte haicoolegesexstory.comचाची का दुध पी कर पेला कि सेकसी कहानीयाँ