तीनो बहनों ने बारी बारी से चुदवाया मुँह बोले भैया से

Three Girl Sex, Threesome Sex, तीन लड़कियों की चुदाई, तीन बहनो की चुदाई, तीन लड़कियाँ सेक्स कहानी,

हेलो दोस्तों मेरा नाम मोनिका है मेरी छोटी बहन का नाम ज्योति है और  उस से छोटी बहन का नाम रानी है आज मैं अपनी एक सेक्स कहानी सुनाने जा रहे हो यह कहानी बहुत मजेदार है जब भी मैं उस वाकए को याद करते हो तो अभी मेरी चूत  गीली हो जाती है मेरा मन डोल जाता है मुझे लगता है कि काश वो रात फिर से आ जाए कैसे हम तीनों बहनों ने उस रात को मजे लिए थे दोस्तों मजा आ गया था आज मैं आपको भी अपनी यह बात शेयर कर रही हूं। 

 यह कहानी आज से 4 साल पहले की है उस समय में 22 साल की थी और मेरे से दोनों बहने एक 1 साल छोटी थी।  हम तीनों भरपूर जवानी में थे तीनों एका पर से एक थे हॉट मॉडल की तरह हम तीनों लगते थे मेरा एक छोटा भाई था वह लल्ला था बेकार था ना पढ़ाई करता था मन दिखाई करता था पर हम तीनों बहनों ने खूब पढ़ाई करें उस समय भी हम तीनों अपने क्लास में अब्बल आते थे.  मेरी मां एक दुकान चलाती थी पापा का एक छोटा सा बिजनेस था वही करते थे।

हम तीनों मिलजुल कर रहते थे पर एक जो सबसे ज्यादा बात खटकती थी वह यह थी कि मेरी मां थोड़ी पुराने ख्याल की थी और मेरे पापा भी मेरी मम्मी से हमेशा नीचे रहते थे यानी की मम्मी हमेशा डांटते रहती थी तो यहां पर मम्मी का चलता था मेरे पापा का नहीं चलता था पुराने ख्यालात की होने के कारण वह हम लोग को ज्यादा छूट नहीं देती थी फैशन में कोई कमी नहीं करने देती थी कपड़े एक से एक देती थी।   पर वह किसी लड़के से बात करने देना नहीं चाहती थी वह सोचती थी कि शायद हम लोगों को पटा लेगा और भगा के ले जाएगा इसलिए वह हमेशा अपने मन में यह सभी बातें सोचते रहती थी। 

 अब मैं सीधे कहानी पर आती हूं। 

 उस समय मैं दिल्ली किराए पर रहती थी।  मेरे सामने वाले मकान में एक लड़का रहता था वह भी करीब 22 साल का ही था वह दिल्ली में पढ़ाई करने आया था पर वह शादीशुदा भी था शायद जिस साल उसकी शादी हुई थी उसी शायद उसी साल हो दिल्ली आ गया था पढ़ने उसमें हम लोग बात नहीं करते थे बस घर में ही बात करते थे कि वह भैया हैं जो वहां रहते हैं पर एक दिन आश्चर्य हुआ जब उनके बीवी गांव से आ गई।  भैया आप पढ़ाई के साथ-साथ नौकरी भी करने लगे थे और एक गांव की जो लड़की आई थी यानी कि उनकी बीवी वह सीधी साधी थी हम तीनों बहनों का भैया के बीवी के साथ दोस्ती हो गई अब जब भैया बाहर होते थे और मेरी मां दुकान पर जाते थे तो हम लोग कभी उनके घर चले जाते थे या वह मेरे घर आ जाती थी ऐसे वह घंटों बातें करते रहते थे धीरे-धीरे बात बड़ी भैया भी घर आने लगे। 

 मेरी मम्मी भी उनको काफी पसंद करने लगी मेरी मम्मी उनको बेटा कहते थे हम लोग भैया कहते थे।  ऐसा तीन चार महीने तक चला और भैया की वाइफ गांव चली गई क्योंकि वह प्रेग्नेंट हो गई थी और मम्मी मेरी पापा के साथ अलीगढ़ चले गए थे क्योंकि हम लोग ऐसे अलीगढ़ के ही रहने वाले हैं।  क्योंकि मेरे मामा जी का काफी तबीयत खराब था इसलिए मम्मी और पापा वही चले गए बोले कि थोड़ा टाइम लगेगा तुम लोग ठीक से रहना।

 दोस्तों एक दिन की बात है मैंने भैया को रात को अपने घर पर बुलाई के भैया आज खाना भी खा लेना खाना खाने करीब 9:00 बजे के करीब आए और हम लोग फिर बातचीत करने लगे बातचीत करते-करते रात के करीब 11:00 बज गए थे .  शनिवार का दिन था तो इसलिए जल्दी बाजी भी नहीं थी क्योंकि दूसरे दिन छुट्टी का दिन था मैंने उनको कहा कि भैया आप रात को यहीं सो जाओ अब आप क्या जाओगे सुबह जाना चाहते हम तीनो बहने चाहते थे वह रात को उस समय हम तीनों के मन में कोई बात नहीं थी ना तो चाहते थे कुछ.

 रात को धीरे धीरे करके मेरे दोनों बहने सोने चली गई मैं और भैया दोनों बातचीत करने लगे बातचीत करते करते पता नहीं कहां से कहां घूमा और हम दोनों एक दूसरे के करीब आ गए वह मेरे करीब आकर बैठ गए उनको निहारने लगी और अब वह मुझे चूमने लगे पता ही नहीं चला मैं रोक भी नहीं पाई और धीरे-धीरे अपना हाथ,  मेरी चूचियों पर रख दिए।

और वह दबाने लगे यह मेरा पहला एक्सपीरियंस था किसी लड़के के द्वारा मेरे बूब्स को छूना मुझे बहुत अच्छा लग रहा था बदन में आग लग गई थी ऐसा लग रहा था कि इससे अच्छा और कुछ दुनिया में हो ही नहीं सकता मेरी सांसे तेज चलने लगी थी मेरी सांसे गरम-गरम निकलने लगी थी मैंने होंठ सूखने लगे थे मैं मदहोश हो रही थी ऐसा लग रहा था कि यह कौन सा नशा है यह बिल्कुल नया था दोस्तों मेरे लिए धीरे-धीरे वो मेरे होंठ को चूसने लगे मेरे हाथों को पकड़ने लगे अपनी अंगुलियां मेरे अंगुलियों में फंसाने लगे मेरे बालों को सहलाने लगे मेरे गर्दन को चूमने लगे मेरे बूब्स को दे दे दे दे दबाने लगे मेरी सांसे तेज होने लगी मैंने दोनों बहनों को देखा तो वह दोनों सो चुकी थी वह खड़े हो गए मैं भी खड़ी हो गई और दोनों एक दूसरे का हाथ थामे हुए अपने बेडरूम में चली गई। 

 वहां जाकर उन्होंने मेरे सारे कपड़े उतार दिए अपने भी सारे कपड़े उतार दें वह मेरे बूब्स को दबाने लगे मेरे निप्पल को उंगलियों से रगड़ने लगे मेरे होंठ को चूसने लगे दोस्तों उस समय मेरा होंठ गुलाबी हो गया था मेरे बूब्स तन गए थे आंखें लाल हो गई थी गाल गुलाबी हो गया था उन्होंने जब मेरी पेंटी खोलने शुरू की तो मुझे थोड़ा खराब लगा खराब का मतलब यहां पर यह है कि मुझे लाज लगने लगा,  मैं शर्म आ रही थी घबरा रही थी पर मुझे सेक्स करने का भी मन था तो मैं उनको मना नहीं की और फिर अपनी पेंटी को खोलने दिया जैसे ही उन्होंने मेरी बहन खोलें। मेरी चूत को देखकर वह देखते ही रह गए क्योंकि उसी दिन मैंने शेव की थी और बिल्कुल टाइट थी। क्योंकि मैं वर्जिन थी। 

 उन्होंने मेरी चुत को चाटना शुरु कर दिया।  मेरे रोम रोम खिल गए थे मेरे पूरे शरीर में आग लग गई थी पहला एक्सपीरियंस वह भी चुत  चटवाने का गजब लग रहा था। मैं अपने दोनों पैरों को फैला दें ताकि वो आराम से इसका मजा ले सकें।  मेरी छूट से पानी निकलने लगी थी.उस पर से वह मेरे बदन को चले जा रहे थे कभी वह मिली चूतड़ को चलाते कभी मेरे होंठ को चूसते कभी मैंने बूब्स को दबाते और लगातार मेरी चूत को चाटे जा रहे थे. 

उसके बाद उन्होंने मेरी दोनों पैरों को फैला दिया और अपना लौड़ा निकाल कर मेरे हाथ में रख दिया।  उनका लौड़ा काफी मोटा था काफी लंबा था उस समय काफी गर्म लग रहा था। मैं तीन चार बार आगे पीछे करें पर मुझे चूत  की गर्मी परेशान करे थे मुझे लग रहा था कि इसका सही जगह मेरी चूत है.

 मैंने कहा भैया देर मत करो मेरी वासना को शांत करो मेरी चुदाई करो.  उन्होंने अपना लौड़ा मेरी चूत पर रखा और जोर से अंदर घुसा दिया मैं दर्द से कराह उठी थी क्योंकि खेद बहुत छोटा था मैं पहली बार चुदाई  कर रही थी भयानक दर्द से मैं तड़पने लगी थी वह मुझे सहलाने लगे थे मेरे बूब्स को सहलाने लगे थे मेरे होंठ को छूने लगे थे धीरे-धीरे में शांत हुई उन्होंने फिर से दूसरा धक्का दिया अब मेरी चूत  थोड़ा-थोड़ा खून निकलने लगा था मैं डर गई थी पर उन्होंने बताया कि ऐसा पहली बार होता है तुम्हें शांत हुई।

उन्होंने जब तीसरा झटका दिया तो उनका पूरा लौड़ा मेरी चूत के अंदर समा गया। दोस्तों अब वह धीरे-धीरे आगे पीछे करने लगे मैं भी नीचे से होले होले झटके देने लगे झटके से और भी ज्यादा काम हो रहे थे और उसे कामुक आवाज निकाल रहे थे।  मेरे सिसकारियां भी बंद नहीं हो रही थी मेरे मुंह से गरम गरम सांसे नाक से गर्म गर्म सांसे निकल रही थी मैं उस समय मुंह से सांस लेने लगी थी दोस्तों मुझे देते थे तो मेरे मुंह से सिर्फ आवाज निकलती थी। 

 अब मैं ज्यादा कामुक हो गई थी मैं भी जोर जोर से चुदना  चाह रही थी वह जोर जोर से धक्के दे रहे थे और मैं मजे ले रही थी मेरे बाल बिखर गए थे मेरी आंखें लाल हो गई थी मेरे काजल फैल गए थे मेरे लिपस्टिक दोस्तों मैं एक नंबर की चुदक्कड़  लग रही थी.

 1 घंटे तक उन्होंने मुझे कभी आगे से कभी पीछे से कभी उठाकर कभी बैठा कभी खुद ऊपर कभी मैं ऊपर कभी घोड़ी बनकर कभी कुत्तिया बनके खूब चुदी। और फिर थोड़ी देर में शांत हो गई। 

 मैं उठकर कपड़े पहने और जैसे ही कमरे से बाहर गई तुम्हें देखी मेरी दूसरी बहन खिड़की से सब नजारा देख रही थी क्योंकि हम लोग लाइट भी बंद नहीं किए थे दोस्तों मेरी बहन बोली कि दीदी तुमने तो मजे ले ले मुझे भी मजे लेने दो मैं बोली ठीक है मैं तुम्हारे बेड पर जा रही हूं सोने अब तो मजे ले लो उसके बाद मैं सोने चली गई और मेरी बहन उनके पास चली गई मेरी बहन को देखते हैं वह बोले आप तो बोले हां जैसे आपने मेरे दीदी के साथ किया है वैसा मेरे साथ भी कर। 

और फिर उनके साथ जाकर सो गई तुरंत तो वह मेरी बहन को चोद नहीं पाए थे करीब आधे घंटे बाद मैं खुद खिड़की से जाकर जाकर देखी तो मेरी बहन मेरे से भी ज्यादा सेक्सी हो कर चुद रही थी वह तो मुंह से ऐसे आवाज निकाल रही थी कि मानो सनी लियोन सेक्स कर रही हो। मेरे से भी उसकी चूचियां बड़ी बड़ी थी उसके जांग भी काफी मोटे थे गांड भी काफी मोटी थी।

वह मेरे से ज्यादा सेक्सी थी उसके बाद कमर तक थे दोस्तों को पूरे बाल को खोल ली थी बेड पैसे लेती हुई थी मानो चुदाई  की देवी सो रही हो। भैया तो मेरे से भी ज्यादा उसको चोद रहे थे क्योंकि वह सेक्सी दिख रही थी इसलिए बेड के आवाज चू चू कर रहा था एक हाय हाय कर रहे थे एक उफ़ कर रही थी। दोस्तों ऐसा नजारा शायद मुझे कभी जिंदगी में देखने और सुनने को भी मिलेगा यह तो शुक्र है कि आपको मैं नॉनवेज story.com पर अपनी कहानी सुनाने जा रहे अन्यथा आप को भी यह नसीब नहीं होता यह मेरी सच्ची कहानी है। 

 जब मेरी बहन और भैया दोनों झड़ गए थे।  तब मैं सोने चली गई वह दोनों साथ ही सोए थे मैं भी काफी थक गई थी जब सुबह नींद खुली तुम्हे देखे मेरी सबसे छोटी बहन वह खिड़की पर खड़े होकर  उन दोनों को सोते देख रहे थे वह दोनों अभी तक नहीं सोए हुए थे। वह आकर मेरे से बोली कि दीदी यह क्या हो रहा है क्या आपने भी मजे लिए हैं तो मैं बोली हां छोटी थी उसके बाद इसने लिया है मेरी छोटी बहन क्यों दी थी मेरे नसीब में नहीं है क्या मुझे लगा कि क्यों नहीं जब दोनों बहन चुद  क्योंकि थे तो इसको भी चुदना चाहिए मैं बोली ठीक है एक काम कर आज दोपहर का रख ले। मैं और ज्योति दोनों मार्केट जाते कुछ सामान लाना है।

भैया का खाना बना देती हूं रुक जाएंगे और हम तीनों की चुदाई करेंगे। वह मान गई रानी बोली ठीक है दीदी आप जल्दी जल्दी नहा लो और इन दोनों को भी उठाओ यह दोनों भी तैयार हो जाएंगे नाश्ता बनाओ हम चारों मिलकर नाश्ता करते हैं और आप दोनों मार्केट चले जाओ ताकि मैं दिन में इनके साथ रंगरेलियां मना सकूं।  ऐसा ही हुआ था दोस्तों हम चारों मिलकर नाश्ता की भैया भी यही नाश्ता किए संडे का दिन था तो उनको कुछ काम भी नहीं था और कोई काम भी रहता तो कौन करता है।

यार जहां पर तीन-तीन चूत मिल रही हो कौन छोड़ता है इसको हम दोनों बहन मार्केट चले गए जब उधर से आए तो मैंने देखा रानी चुद रही थी। हम दोनों ने अंदर जाकर देखा क्योंकि मेन गेट की चाबी मेरे पास थी मैं गेट खोल कर अंदर गई वह हम दोनों बहनों से भी ज्यादा अलग अलग तरीके से चुदवा रही थी हम दोनों तो दंग रह गए।  

जब दोनों शांत हो गए हैं लेट गए तब हम दोनों बहन अंदर गए अब हम तीनों बहन उनको चूमने लगे चाटने लगे और मजे लेने लगे दोस्तों फिर हम तीनों ने प्लान बनाया। कि कल भी हम लोग छुट्टी करते हैं आज रात को खूब मजे लेते हैं ऐसा ही हुआ दोस्तों उस रात को भी हमने खूब मजे लिए तीनों ने अब एक साथ सेक्स किया वह बारी-बारी से हम तीनों को चोदते रहे क्योंकि वह शाम को ही मार्केट से टेबलेट ले आए थे। रात को उन्होंने चार टैबलेट खाया था।

और हम तीनों को खूब खुश किया था आज भी वह दिन जब याद आता है तो मजा आ जाता है दोस्तों काश ऐसा दिन फिर आता पिछले साल ही मेरी शादी हो गई है पर जब भी मेरा पति मुझे चोदता  तो ख्वाब में उनको जरूर याद करती हूं क्योंकि वैसा चुदाई आज तक नहीं हो पाई है। आशा करती हूं मेरी यह कहानी आपको अच्छी लगी होगी हो सकता है शब्द थोड़ा इधर-उधर हो गया पर मैं हूं लिखने की कोशिश की दूसरी कहानी नॉनवेज story.com पर जल्द ही आने वाली है तब तक के लिए दोस्तों आपका बहुत-बहुत धन्यवाद टेक केयर।

Hindi Sex Story

Sex Stories, Hindi Sex Stories, Sex Story, Hindi Sex Story, Indian Sex Story, chudai, desi sex, sex hindi story, Marathi Sex Story, Urdu Sex Story, पढ़िए रोजाना नई सेक्स कहानियां हिंदी में अन्तर्वासना सेक्स और इंडियन हिंदी सेक्स कहानी हॉट और सेक्सी सेक्स कहानी, Sex story, hindi story, sex kahaniyan, chudai ki kahani, sex kahaniya


Online porn video at mobile phone


बहन की सेक्सी चिकनी गाड बुर की शील तोड़ाचेक्च जादा करने चे किया होता हैजेठ.और.देवर.ने लँड.की रखैल बनायाhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayabaap beti xxxsexystorybarsat ke raat bhai na chodaछोरी चोदते समय कितनी चुत फटती है व किस लिये फटती हैBhaya nea muta mut kea bur choda hindi saxi khanixxx vodeo mauji ke pel ke phar ke pelna walaहिदी सैकसी सुहागरात मे पराये मरद से चुदवायाdibali me cudane ki kahanibete ne maa mausi aur chachi ko aeki palng pr chudai ki hindi ds kahani bhejoदीदी को होली के दिन चोदा HotSexyStory of brother-sister in hindiwidhva hokar sambhog sex storiesछोटी भाभी की विल्लेज में छोड़ेमुझे चुत चाटना नही आता कृपया बता जी ऐहिंदी सेक्सी कहानियांdibali me cudane ki kahaniपापा ने चोद डालाhotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayahotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayaपत्नी आफिस में बास से चुदवाईhindi xxx storycollegeteachersexstoryPeriod k sex khaniदामाद जी ने अपनी सासु माँ कि चुत चुदाई कि देसी हिंदी काहानीरात में चीख पड़ी जब भाई ने जोर से लौड़ा घुसाया विर्जिन चूत मेंमकान मालिक खूब चुदवायाpainty bra dekh mother in law ki honeymoon chudai storysexstorymama ki beti kheto mwww कामुकता डौट कम बहन की कुते सेसेकस सटौरीपापा के दोसत ने बेरहमी से चोदाmother and bathasex कहानीkhubtej pelam pelछोटी लङकी की चुत मे 11 इँच लँबा और 5 इँच मोटा लँड कैसे डाले वो हमसे चुदवाना चाहती हैdibali me cudane ki kahaniMom.sexkhaniDidi ne rajai me chut marana sikhayaललितपुर के लडके की गाड चुदाई की कहानी गे सेक्समा के सात थडी मे चुदाई का मजा य काहानिबाप लेक प़णय कथाभाभी.की.जवानी.के.मजे.लिये.देवर.ने.मजे.ही.मजे.मे.रश.भरा.दुध.पिया.चुत.%2papa k draevar k sat sax vasana story hindiमराठी झवाझवी ची कथा ड्राइवररात में विधवा आंटी को चोदाdibali me cudane ki kahanidadisexhindistoryचुदाइ के नालेजdibali me cudane ki kahaniमां बोली अपने बेटे से बेटा मुझे अपनी रखेल बनाकर चोदोdost ki bahan ki chudai talab maiमाँ के घर की चुदाईdibali me cudane ki kahanisex story hindi jailपारिवारिक सेक्स स्टोरीjel.me.choda.sex.kahani.hindiअन्तर्वासना मेरी माँ चुदती हुईdibali me cudane ki kahaniauncle ne ma ke patikot ka nada kholachudai kahaniya meri maa muhaale ki randi.डाँक्टर ने इलाज के बहाने आंटी की चुदाननद की ट्रेनिंग सेक्स स्टोरीmast chudai mall dukan me kahanihotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayasister papapa sexy xxxlambisex kahaiya XXXस्टोरी हनीमून माँ बेटेSex khani sotele bap ne jm kr choda bivi ko dost se chudvakar pregnant kiyaचुचि को दबाकर मजा लेते हुए लङकाbhai se chudi raat bhr pti smjh krmarahisexstories.cc maa chudaiमसाज पार्लर में पिज़्ज़ा मूवी च**** वालीwww. risto me chudaiबहन को चोदकर बच्चा दियाdibali me cudane ki kahaniसेक्सी ससुर सेक्सी बहु के साथ सेक्सी कहानी पढना हे मेरी पहली चुत चुदाईआन लाइन हिनदी सेकसी बिडीयो बुरdibali me cudane ki kahaniक्सनक्सक्स देसी सर्ब पि का gandबरा से बोबे लटक रहे थे देवर जीभ चाटने लगाfamle sixe store in hindehomesexkahaniChudai kahaniSexstori.nursechudaiBaap ne beti ko daru or moot pila kar chodaVirgin Girls muth marte hue पूच्चि वालागोवा मे चुदाई मौसी कि चुKhanehindexxx