एक साथ कई लड़कियों की चुदाई मस्त लड़की की चुदाई

Hotz (825)मेरा नाम दिवाकर उम्र 22 साल, कद 170 और मेरा वजन 65 किलो है। बहुत साहस करके अपनी खुद की वास्तविक कहानी आप लोगों का बता रहा हूँ। मैं उतरखंड का रहने वाला हू और अभी गांधीनगर, गुजरात में रह रहा हूँ। गांधीनगर में मैं एक सिक्योरिटी कम्पनी में नौकरी करता हूँ और हर 3-4 महीने बाद घर जाता हूँ। वैसे आप सब लोगों को बता दूँ कि मैं एक नम्बर का चूत का चुस्सू हूँ। अब मैं अपनी कहानी पर आता हूँ।
यह बात उन दिनों की है जब मैं 11वीं कक्षा में पढ़ने हिण्डौन सिटी गया। हिण्डौन सिटी हमारे गॉंव से 18 किमी पड़ता है। मुझे रोज घर से स्कूल आने-जाने में परेशानी होती थी इसलिए मुझे हिण्डौन सिटी में ही एक कमरा किराए पर लेना पड़ा। बड़ी मुश्किल से कमरा मिला। उसका मकान मालिक 5 साल पहले एक दुर्घटना में मर गया था। अब उसकी विधवा औरत ही उस घर की मालकिन थी। उसका नाम काजल, उम्र 30-32 के करीब थी। उसकी छोटी बहन और वो अपनी दो लड़कियों के साथ उस मकान में रहती थी। उसकी बहन का नाम सोनी और लड़कियों के नाम मोनिका और करिश्मा थे।
उसकी बहन सोनी की उम्र 25 के करीब थी और बेटियों की उम्र 18 और 20 होगी। उसके मकान में 3-4 कॉलेज की लड़कियाँ भी रहती थी। उनमें एक मेरे गाँव की लड़की माधुरी भी रहती थी, वो भी कॉलेज में पढ़ती थी। उसकी उम्र बीस साल थी। उसने ही मुझे बताया था कि उस मकान में एक कमरा खाली है यदि तुम चाहो तो तुम वो मकान किराये पर ले सकते हो।
उसने कहा था- वैसे तो वो लड़कों को कमरा किराये पर देती नहीं है, यदि तुम कहो तो मैं उनसे पूछ लेती हूँ।
मैंने कहा- ठीक है, तुम पूछ लेना ! मुझे कमरा किराये पर नहीं मिल रहा है, मैं उसी में रह लूंगा।
अगले दिन मुझे बताया कि मकान मालकिन बडी मुशिकल से तैयार हुई है, तुम अपना सामान लेकर आज शाम को ही आ जाओ। यदि कोई लड़की आ गई तो वो कमरा उसे दे दिया जायेगा।
मैं शाम को ही अपना सामान लेकर कमरे पर चला गया। वो कमरा उस मकान की पहली मंजिल पर था। मेरे कमरे के पास में ही बाथरूम था। बाथरूम के नाम पर एक बड़ा सा कमरा था। बाथरूम में एक टंकी थी उसमें पानी भरा रहता था। सभी वहीं नहाते थे। नहाने के लिए कोई अलग से बाथरूम नहीं था। उस कमरे में एक तरफ़ चार लेट्रीन थी पर एक का ही दरवाजा था, बाकी तीन पर दरवाजा ही नहीं था।
मेरे कमरे से बाथरूम की ओर एक खिड़की थी जिससे उसमें सब कुछ दिखाई देता था। मेरे कमरे के साथ में एक कमरा और था उसमें एक टीवी लगा था। उस कमरे की दीवार में भी एक छोटी खिड़की थी और एक खिड़की बरामदे की तरफ भी थी।
अगले दिन जब मैं जगा तो देखा कि सभी लडकियॉं नंगी ही बाथरूम में नहा रही हैं और आपस में मस्ती कर रही हैं। कोई किसी की चूत में उंगली कर रही है, कोई किसी की चूची दबा रही है। यह देख कर मेरा लण्ड खड़ा हो गया और मैं उसे शांत करने में लग गया। यार, मैं उनको देखते हुए मुठ मारने लगा।
फिर जब सब नहा कर निकल गई, मैं तब नहाने गया तो उस दिन मैं स्कूल के लिए लेट हो गया।
अगले दिन मैं सुबह 4 बजे ही जग गया और तैयार होने बाथरूम में गया और दरवाज़े वाली लेट्रीन में घुस गया। थोड़ी देर बाद मकान मालकिन बाथरूम में तैयार होने आई तो वो अपने कपड़े खोल के ब्रा और पेण्टी में लेट्रीन के लिए आई तो दरवाजे वाली में तो मैं था, तो वो बगल वाली बिना दरवाजे की लेट्रीन में घुस गई।
जब मैं बाहर निकला तो वो अपनी चूत की झाँटें काट रही थी। जैसे ही मैंने उसे देखा, देखता ही रह गया, बाप रे ! क्या मस्त चूत थी ! एकदम पाव रोटी की तरह ! और क्या चूची थी पूरी 36 इन्च की ! मुझ पर उसकी नज़र पड़ी तो उसका हाथ ऐसे ही रूक गया जहाँ पर था। मैं उसे सॉरी बोल के जल्दी नहा कर अपने कमरे में आ गया, पर मेरे दिमाग में वही उसकी चूत का दृश्य आ रहा था। फिर मैंने उसके नाम की मुठ मारी और स्कूल आ गया। मेरे दिमाग में वही दो दिनों के दृश्य घूम रहे थे तो मैं आधी छुट्टी में ही वापस आ गया। जैसे ही मैं कमरे में पहुँचा तो टीवी वाले कमरे से अजीब आवाज आ रही थी। मैंने जब खिड़की से उस कमरे में देखा तो दंग रह गया।
मेरी मकान मालकिन और मेरे गांव वाली लड़की माधुरी दोनों नंगी होकर आपस में एक-दूसरे की चूतों को 69 पोजिशन में चूस रही थी और माधुरी काजल से कह रही थी- काजल डॉर्लिंग, अब मैं तेरे लिए एक 18 साल का मस्त लड़का लाई हूँ। अब तू जल्दी से उसे पटा कर चुदवा ले और हमें भी चुदवा दे।
तो काजल बोली- माधुरी डार्लिंग मुझे पहले ही बहुत जल्दी है इसलिए आज जब वो नहाने गया तो मैं भी अपना रेजर लेकर झाँटें काटने पहुँच गई जिससे उसे मेरी चमकती चूत के दर्शन हो जायें और उसे वो बाथरूम के पास वाला कमरा भी इसीलिए दिया है कि वो रोज चूतों और चूचियों के दर्शन कर ले ! क्यों डार्लिंग ?
मैं उनकी बातें सुन कर उत्तेजित हो गया और उन्हें देखते हुए मुठ मारने लगा। थोड़ी देर बाद अचानक एक हाथ ने मेरे लण्ड को पकड़ा तो अचानक मेरा ध्यान भंग हुआ।
देखा तो सामने सोनी खड़ी हुई मेरा लण्ड हिला रही है। सोनी बोली- प्यारे, इस बेचारे की क्यों गर्दन मरोड़ रहा है, मुझे बोल, मैं इसको अपनी चूत के स्वर्ग में पहुँचा देती हूँ !
और वो मेरा लण्ड चूसते बोली- तुम मेरी चूची दबाते हुए अन्दर का नजारा देखते हुए मजा लो और मैं तुम्हारा रस पीती हूँ !
अब वो मेरा लण्ड चूस रही थी और मैं उसकी चूची दबाते हुए अन्दर का नजारा देखने लगा।
अन्दर माधुरी और काजल 69 पोजीशन में होकर एक-दूसरे की चूत चूस रही थी और उंगली भी पेल रही थी। उनके सामने दीवार पर प्रोजेक्टर के द्वारा एक ब्लू फिल्म चल रही थी। अचानक माधुरी उठी और आलमारी से एक प्लास्टिक का लण्ड निकाल कर उसका बेल्ट अपनी कमर में बॉधा। यह प्लास्टिक का लण्ड बेल्ट के दोनों ओर था जिससे माधुरी के बेल्ट कमर पर बाँधने से बेल्ट के पीछे वाला
प्लास्टिक का लण्ड माधुरी की चूत में घुस गया। अब माधुरी लण्ड को झूलाते हुए काजल के पास आई और बोली- जान अभी एक दो दिन ओर इस प्लास्टिक के लण्ड से चुद लें, फिर तो तू दिवाकर के असली लण्ड का स्वाद चखेगी !
इधर उनकी बातें सुनते हुए और सोनी के लण्ड चूसने से मेरा हाल बुरा होता जा रहा था, अब मैं झड़ने के करीब था।
तो मैंने सोनी को कहा- साली रण्डी, सोनी कितना चूसेगी ? अब मेरा निकलने वाला है !
तो सोनी बोली- मैं तेरे लण्ड के वीर्य का ही इन्तजार कर रही हूँ ! मुझे तेरा वीर्य पीना है !
तो ले पी साली ! और मैंने अपने वीर्य की पहली बरसात सोनी के मुंह में कर दी।
और साली सोनी मेरा पूरा वीर्य चाट-पोंछ के पी गई। उधर अन्दर माधुरी प्लास्टिक के लण्ड से काजल को चोद रही थी, इधर सोनी कहने लगी- साले तेरा लण्ड तो मैं चूस रही हूँ ! साले मेरी चूत को चूसने को क्या तेरी मां आयेगी?
तो मैंने कहा- साली, तेरी चूत भी मैं चूसूंगा !
और मैं उसे उठा कर उल्टा करके उसके पैरों को अपने कंधों पर रख कर उसकी चूत चूसने लगा और वो उल्टे लटके हुए मेरा लण्ड चूस रही थी। 15 मिनट तक उसकी चूत चूस कर मैंने उसको सभी पोजीशन में चोदा । सबसे पहले मैंने सोनी को उठा कर अपने लण्ड पे बिठा कर खड़े-खड़े चोदा, फिर घोड़ी बना के चोदा। मैंने सोनी को 3 बार दिन और 4 बार रात में चोदा।
वो कहने लगी- तुम पहले आदमी जिससे मैं पहली बार चुदी हूँ, वैसे मैं अब तक रोज उसी प्लास्टिक के लण्ड से चुदवाती थी जिससे अभी काजल दीदी चुदवा रही थी। अब तुम जल्दी ही काजल दीदी और माधुरी को चोद लोगे पर तुम जल्दी मत करना क्योंकि तुम देखो कि दीदी और माधुरी तुमको कैसे चोदने के लिए तैयार करती हैं।
तो मैंने कहा- ठीक है, तुम रोज मुझ से चुदवाने मेरे कमरे में आ जाया करो ! और ऐसा 7-8 दिन चला।
फिर एक दिन काजल ने मुझ से चुदवा ही लिया और उसके 3-4 दिन बाद माधुरी ने भी चुदवा लिया।
और वहाँ रहने वाली हर लडकी को चोदा !
अगले दिन मैं जल्दी 5 बजे ही जगा, जब सब लड़कियाँ नहाती थी और खिड़की के पास बैठ गया। जब माधुरी आई तो उसने मेरे कमरे की तरफ झांका और बाथरूम में चली गई। और जाते ही उसने करिश्मा की गांड पर हाथ मारा और कहा- क्या हाल है मेरी चुदक्क्ड़ ?
और मेरी खिड़की की तरफ मुँह करके पूरे कपड़े उतार कर नंगी हो गई और करिश्मा से कहने लगी- यार करिश्मा, मेरी चूत में बहुत आग लगी है, किसी असली लंड से इसको चुदवा दे !
और अपनी चूत के होठों को खोलते हुए उसे मेरी तरफ मुँह करके दिखाने लगी जिससे मुझे उसकी चूत अन्दर तक लाल दिखाई दी और मेरा हाथ अपने लंड पर चला गया।
इतने में करिश्मा बोली- अपने दिवाकर के लंड से चुदवा ले ना !
इतने में बाथरूम में सोनी घुसते हुए बोली- यार कौन दिवाकर से चुदवाना नहीं चाहता? सभी चाहती हैं पर चुदवाने का बहाना तो तलाश करो !
और सोनी ने अपनी एक ऊँगली माधुरी की चूत में डाल दी तो इस पर माधुरी बोली- अब इसे तेरी ऊँगली की नहीं, दिवाकर के लंड की जरुरत है !
फिर सभी लड़कियाँ मस्ती से नहाकर अपने कॉलेज चली गई और मैं भी नहाकर अपने कॉलेज चला गया पर जब मेरा दिल नहीं लगा तो वापस कमरे पर आ गया।
वहाँ देखा कि काजल बाथरूम में नंगी ही नहा रही है !
तो मैं भी कपड़े धोने के बहाने पूरे कपड़े उतार कर सिर्फ अंडरवीयर में बाथरूम में चला गया। काजल मुझे देख कर बाथरूम में इधर-उधर चक्कर लगाये क्योंकि वो अपने कमरे से नंगी ही नहाने आई थी। तो मैंने कहा- क्या हुआ काजल जी? आप ऐसे इधर उधर क्यों भाग रही हो? अब तो मैंने आपका सब कुछ देख लिया है, चूत भी चूचियाँ भी ! बड़ी मस्त चूत और चूचियाँ हैं !
इतना सुनकर वो बोली- मेरा इतना देख कर भी अपना लंड इस टेंट में छिपा रखा है ?
तो मेरा लंड निक्कर में फड़फड़ाने लगा। काजल मेरी निक्कर नीचे सरका कर उसे चूसने लगी तो मेरा लंड एक लोहे की छड़ की तरह हो गया।
मैं बोला- साली, यदि तू मेरा चूस रही है तो कुछ मुझे भी चुसा !
और मैंने उसकी टांग पकड़ के उसकी टांग ऊपर उठा के उसे उल्टा लटका दिया और उसकी चूत चूसने लगा और वो मेरा लंड !
15 मिनट के बाद वो सी सी …….. करके अपनी टांग दबाने लगी और झड़ गई। मैं उसकी चूत का नमकीन और स्वादिष्ट रस पी गया। फिर मैंने उसे खड़े खड़े ही पल्टा और उसको लंड पर बिठा कर चूत में लंड घुसा दिया और चोदने लगा। वो भी मेरे कन्धों को पकड़ कर अपनी गांड हिलाने लगी। अब वो पूरी मस्ती में आ चुकी थी, बोली- दिवाकर, प्यारे मैं तुझे पहले ही दिन देख कर समझ गई थी कि तू ही मेरी चूत की आग बुझा सकता है। आज मेरी चूत की आग चोद-चोद कर बुझा दे।
मैं बोला- मैं तो तब ही समझ गया जब आपको मैंने बाथरूम में झांट काटते हुए देखा और आपकी गुलाबी चूत ने मेरा जीना हराम कर रखा था। यह लंड मुझे जीने नहीं दे रहा था, आज मुझे शांति मिली है जब मैंने तेरी चूत में इसे घुसा दिया है। अब रोज तेरी चूत की धज्जियाँ उड़ाया करूँगा।
फिर मैं उसे दबा कर चोदता रहा और वो भी मुझे खूब गांड हिला कर उकसाती रही। जब मैं उसे तीसरी बार चोद रहा था तो काजल बोली- राजा, अब मुझे लंड पर बैठा कर चोदते हुए मुझे मेरे कमरे में ले चलो ! यहाँ कोई आ जायेगा !
फिर मैं उसे लंड पर बिठा कर उसके कमरे में लाकर उसके बेड पर घोड़ी बना कर चोदने लगा। जब मैं काजल को घोड़ी बना कर चोद रहा था तो अचानक सोनी आ गई और वो बड़ी तेजी से कमरे में घुसी और घुसते ही रुक गई और हमें देखा तो मैंने उसे आँख मारी, वो समझ गई कि अपनी चुदाई की बात नहीं बतानी है।
वो काजल पर बरस पड़ी- आप तो दिवाकर से चुदवा रही हैं और यहाँ हमरी चूत की फिकर ही नहीं है !
तो काजल उसे अपने पास बुलाया और उसकी चूची दबा कर बोली- यार, तू क्या समझती है कि मुझे पता नहीं है कि तू कल कहाँ थी जब मैं और माधुरी आपस में प्लास्टिक के लंड से चुद रहे थे !
तो मैं अचानक चौंका- आपको कैसे पता चला?
तो काजल बोली- जब हम चुदाई करते हैं और सोनी होती है तो यह जरूर हमसे अपनी चूत में लंड डलवाने आती है और कल यह आई नहीं ! और मैंने तुम्हें कमरे में घुसते हुए देख लिया था। फिर जब माधुरी मेरी चूत में प्लास्टिक के लंड से चुदाई कर रही थी तो मैंने देखा कि कोई तेरे लंड को नीचे बैठे चूस रहा है क्योंकि मुझे सोनी के सर के बल दिखे और जब मैंने माधुरी को छोड़ा तो मैंने देख लिया था कि तुम सोनी को घोड़ी बना कर चोद रहे थे।
इस पर सोनी बोली- दीदी आपको आना चाहिए था असली लंड से चुदवाने !
काजल बोली- मैंने सोचा कि अब मैं तो प्लास्टिक के लंड से चुदवा ही रही हूँ, चलो तुम ही चुदवा लो !
फिर मैंने काजल को दो बार और सोनी को एक बार चोद कर रात को चोदने का फैसला किया और इसके बाद माधुरी, करिश्मा, मीरा को चोदा।

Hindi Sex Story

Sex Stories, Hindi Sex Stories, Sex Story, Hindi Sex Story, Indian Sex Story, chudai, desi sex, sex hindi story, Marathi Sex Story, Urdu Sex Story, पढ़िए रोजाना नई सेक्स कहानियां हिंदी में अन्तर्वासना सेक्स और इंडियन हिंदी सेक्स कहानी हॉट और सेक्सी सेक्स कहानी, Sex story, hindi story, sex kahaniyan, chudai ki kahani, sex kahaniya



कुवारी छोटी बेटी को छोडने बुलाया पापा नेbete or damaad se chudaiतेरी चूत फाडूगा मौसी हिंदीkhit xxx kahaneवाप ने वेटे की गांड मारी गे सैक्स कहानीaur jor se chodo ohhhhhh yes antarvasnabhan bhai sax khanidibali me cudane ki kahaniमराठी sex jokcesgurumastram.netuttejit mahilaxxx saxy nonbaj storeचुत चुदाई गाँड बुवाbhabhi aapki cut kitani gili h hindi videoTak natibhy Bagar bari chari chomaChudai story chamain jati ki ladkiyo ke sathbahen.ne.baye.se.chudaexxx bhavi ka davar par jal meerathindisexstoiereBhabhi ke na kahne par bhi chudai ki kahaniबुर चीर देखा माँ क्ष्क्ष्क्ष स्टोरीnonveg sex joks buddaDadaji NE kup Choda story. Mom.hotsixstory xyzdibali me cudane ki kahanibete se chut marvai mammne ne antarvasnaतेल मालिश करके की माँ आँटी मोशी बहन कि चुदाइ कहानिthand se bachne ke liye maa ne kiya Chudai Antrawasnahotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayasex oldman in hindi nonvegcahcha ne ma ko rajai m choda hindi sexi khanixxx हीदी. मघे vdiosvidhva behan ne apne chhote bhai ko uksayaहिदी सेकसी कहानी गाड मारापापा ने मुझे मेरि रंडी मा के साम ने चोदा.sex.kahaniटेरन चल रहीँ हैँ या नहीजीजू ने मेरी बुर चोदीdibali me cudane ki kahaniभाभी जी ने रात में लिए दो लंडsister and mom ki sexy story in hindisexkahanibahankiAntarvasana dahi birthdayWoh koun sa desh jaha aurat pent nahi pentibhabhi ne kha moka milte hi kar lena सेक्सी चुटकुलेchudai nai kahaniheejadee ke chudai kee kahaanisusral mein phli holi pr sex story lando ki holihotsexstory.xyz ajnabi ne kali se phool banayasexybhabhisexstoryVirgin Girls muth marte hue xxxx hindi maishi ne apne bhatije se chodawayaमाँ बर khujle baity khaneगाँव कि भाभी को रजाई मे चौदा हिन्दी कहानियाzoplelya bahinichi zavazavi storyantarvasnaसेक्स कहाणी बेटा चुदाई70 दादीXxx dudhasuhagrat khani hinde xxx bhandamad ka mota lund hath me lekar xossipबूर फटनाPapa se sadi aur choda sex story Hindi Dasi Indian ma ki poriraat cudai ki storiW w w dot com गनदी शँयरी देवर भभी कीमेरी चूत का गैग बैगbete ko mazya diya kamukta kathaनया चोदाइ के काहानिगोवा मे चुदाई मौसी कि चुsex story hindi ajeebइतना मोटा लम्बा लोडा पहली बार देखा सगेantarwasnna naukrani hot storyजेठ देवरानि कि चुदाईरसोई घर में chudai risto में कहानीपड़ोसी वाले चाचा से चुदीVARGINSEX HINDI KATHAApni bhatigi ke satha xxx kahanibhai ki kartu papa ko btae to papa ne mughe chod diya storyमुझको तेल लगाने लगा सेक्स कहानीnonvage sex stopy ma betahindisexestoryhide stori xxx .comहोली story in antarvasnax.comdibali me cudane ki kahanimaa papa buva vasna पैसे के लिये भाई को पटाकर चुद गईdibali me cudane ki kahaniनये लडके को पटाकर चुदवाया कहानीBibi ki jahag sasu ma ko choda sex storiMummy ko makan malik ne khoob choda mote lund se sexi hindi khaniसममूल्य kitani दिन दर्द होता है कहानी सिल tutniबहन तेरी च** मारने में मुझे बहुत मजा आता है हिंदी कहानीsexvidoes marathi souhagaratsister papapa sexy xxxdibali me cudane ki kahaniपत्नी ने पति को नामर्द होने के कारण ससुर से बियभnurse aur mareej chudai kahaniलडचुत छोटी लडकू के साथ